Sunday, 21 July 2013

मसाले के औषधि प्रयोग

मसाले के औषधि प्रयोग




जिरा

ये त्रिदोषशामक, वायुनाशक, वेदनाहारक और मात्रृदुग्धवर्धक है |
* जिरा व मिश्री समभाग पीसकर ५-६ ग्राम मिश्रण सुबह-श्याम दूध के साथ लेने से माताएँ के 
  दूध बढ़ जाता है|२-३ ग्राम जीरे का पूड गुड के साथ खाने से भी माँ का दूध बढ़ जाता है |
* सफेद जिरा ऊबाल के उस पानी से कुछ दिन मुँह धोने से फोड़ो-फंसी, के डाग दूर होते है |
* जिरा और मिश्री समभाग पीसकर २ से ५ ग्राम मिश्रण चावल के पानी के साथ लेने से
  श्वेतपदर (ल्यूकोरिया) में लाभ होता है |

धना :

ये शीतल, त्रिदोषशामक और मस्तिष्क को बल देनेवाला है |
* पित्तजन्य रोगोमे धना, सौंफ और आँवला समभाग चूर्ण बनाकर और उसमे उतनी ही मात्रा में
  मिश्री मिलाकर ये मिश्रण १० ग्राम एक ग्लास पानीमें - घंटे भिगोकर रखना और
  छानकर हररोज पीने से फायदा होता है |
* हरा धनियाँ के रस में सक्कर मिलाकर पीने से अनिद्रा,उलटी और सिरदर्द में लाभ होता है |
* थोडा धना चबा-चबाकर खाने से सगर्भावस्था से होने वाली पित्तशामक बीमारी दूर होती है|
* खाने खाना के बाद तुरंत शौच को जाने के आदत है तो २ ग्राम धना पावडर लेकर उसमे
  थोडा काला नमक मिलाकर खाना खाने के बाद लेना लाभ होता है | 

सौंफ :

ये सुंगधित, बलबर्धक और रुचिकारक है |
* सौंफ और मिश्री चबा-चबाकर खाने से नेत्रज्योति बढती है और पित्त का शमन होता है |
  खाना खाने के बाद सौंफ खाने से मुँह के छाले और दुर्गंधी मिटती है |
* आधा चमच सौंठ और १ चमच सौंफ का काढ़ा बनाकर सुबह-श्याम पीने से जुलाब में आराम  
  मिलता है |
* १ चमच सौंफ पावडर रात को पानी के साथ पीने से पेट साफ़ होता है |
* ५ ग्राम सौंफ व ५ ग्राम मिश्री पीसकर शरबत बनाके पीने से सिरदर्द में आराम मिलता है |

Medicinal properties of common spices :-

Cumin seeds :-

Cumin alleviates all three doshas, wind problems, reduces pain and augments breast milk.
- Grinding cumin seeds and rock sugar in equal proportions and taking 5-6 grams mixture daily in morning and evening with milk helps mothers augment breast milk. Taking a small portion of 2-3 grams of cumin seeds with jaggery also helps increase the milk content.
- White cumin, if boiled in water, then straining the water and using it to flush your mouth helps overcome pimples - ance and other patches on your face.
- Grinding cumin seeds and rock sugar in equal proportions and taking 2-4 grams mixture with rice water helps overcome Leucoria in women.


Coriander :-

This herb helps cool the body, alleviates all three doshas and offers mental strength.
- Make a equal mixture of coriander, fennel and amla powder, and add a similar proportion of rock sugar. Add 10 grams of this mixture in a glass of water and drink it after straining it off after 4-6 hours. Drinking this concoction daily provides relief from all ailments related to excessive acidity.
- Taking juice extract from coriander mixed in water helps overcome loss of sleep, vomiting and headaches.
- Chewing a few coriander seeds helps alleviate acidity during pregnancy.
- If you have a habit of going to loo immediately after meals, then taking 2 grams of coriander powder with a tinge of black salt offers relief in such cases.

Fennel seeds :-

It is aromatic, improves strength and creates healthy desire to have food.
- Chewing fennel and rock sugar helps improve eyesight and alleviates acidity. Taking this after meals cures lesions inside mouth and bad breath.
- Make a hot concoction of half teaspoon of dry ginger and 1 spoon of fennel and take this daily in morning and evening provides relief from diarrhea.
- Taking a spoon of fennel powder with water helps clear out your stomach.
- 5 grams of fennel and 5 grams of rock sugar ground together and make a concoction in water. Drinking this helps reduce headaches.
 





0 comments:

Post a comment