Tuesday, 6 August 2013

आंखों के सामने अचानक अंधेरा हो जाए तो समझें...

आंखों के सामने अचानक अंधेरा हो जाए तो समझें...



आंखों के आगे अंधेरा होना, चक्कर आना, बाहरी दृश्य हिलते हुए, घूमते हुए या उल्टे सीधे नजर आना.....इसी तरह की जाने कितनी ही समस्याएं हैं जिनका सीधा संबंध हमारी आंखों से होता है। एकाएक खड़े होने, झुकने  या तेजी से घूम जाने पर अचानक आंखों के सामने अंधेरा छा जाता है। प्रकाश होते हुए भी अंधेरा लगना या चक्कर आने के कई शारीरिक और मानसिक कारण होते हैं।


* शरीर का किसी बिमारी से ग्रसित होना, कमजोरी और थकावट होना, क्षमता से अधिक शरीर से काम लेना,



* एनिमिया या रक्त अल्पता ।शरीर में खून की कमी ना सिर्फ हमें कमजोर बनाती है बल्कि अनेक रोगों और रोग कारकों से लडने की शारीरिक रोगप्रतिरोधक क्षमता में भी काफी गिरावट आती है।



* नींद का पूरा न होना, आंखों के लिये आवश्यक प्राटीन्स औ विटामिन्स की कमी हो जाना आदि प्रमुख कारण हैं जिनके कारण यह समस्या पैदा होती है। नीचे दिये जा रहे कुछ कारगर उपायों को करने से इस रोग में तत्काल लाभ होता है-


-Hemoglobin की कमी है तो मुनक्का (द्राक्ष) रात तो भिगा दो, २५-३० दाने , और सुबह बीज निकाल के उबाल के खाओ ...खून बनेगा ।


- खजूर :7 या 8 पिण्डखजूरों को 500 मिलीलीटर दूध में 200 मिलीलीटर पानी  डालकर हल्की आंच पर पका लें और लगभग 500 मिलीलीटर की मात्रा में दूध रह जाने पर दूध को आंच पर से उतार लें। अब इसमें से खजूर निकालकर खाकर ऊपर से इसी दूध को पीने से शरीर में भरपूर ताकत और मजबूती आती है।


-हरी पत्तेदार शब्जियों और सलाद का सेवन करें।



-प्रतिदिन 1 गिलास दूध में एक चम्मच घी डाल कर पीएं।



-रात को पानी में गलाकर रखी हुई दो बदाम सुबह खूब चबा-चबाकर खाएं।



-अंकुरित अन्न का प्रतिदिन नाश्ता करें।



-जितना संभव हो जल्दी सोएं और जल्दी उठें।





0 comments:

Post a comment